सुपरमॉडल हैं अनिल कपूर की बीवी, रिक्शा तक का उठाती थी खर्चा…तस्वीरें हो रही वायरल

बॉलीवुड एक्ट्रैस श्रीदेवी 24 फरवरी 2018 को इस दुनिया को अलविदा कहकर चली गई। हाल ही में श्रीदेवी की याद में अब चेन्नई में एक प्रेयर मीट का आयोजन किया जा रहा है। जहां फैमिली मेंबर्स सहित बड़ी संख्या में बॉलीवुड सैलेब्स के पहुंचने की उम्मीद है। इसी बीच सोशल मीडिया पर श्रीदेवी की उनकी देवरानी यानी अनिल कपूर की पत्नी सुनीता के साथ एक फोटो वायरल हो रही है।

लाइमलाइट से रहती हैं दूर

इसमें दोनों देवरानी-जेठानी ट्रेडिशनल ड्रैस में पोज देतीं नजर आ रही हैं। लाइमलाइट के दूर ही रहने वालीं सुनीता को लेकर कम ही लोग जानते हैं कि उन्होंने भी श्रीदेवी-बोनी की तरह ही अनिल कपूर से लव मैरिज की थी। हालांकि इनकी लव-लाइफ की रियल स्टोरी काफी फिल्मी रही है। चलिए उनकी कहानी आपको बताते हैं।

जानी मानी मॉडल थी सुनीता

जब दोनों की पहली मुलाकात हुई थी, उस वक्त अनिल कपूर एक स्ट्रगलिंग एक्टर हुआ करते थे और सुनीता थी एक जानी-मानी मॉडल। पहली ही मुलाकात में अनिल, सुनीता को देखकर उन्हें अपना दिल दे बैठे थे। वे उनके करीब आना चाहते थे, और बातचीत आगे बढाना चाहते थे लेकिन उनके पास सुनीता तक पहुंचने का कोई जरिया नहीं था। मगर बाद में अनिल कपूर के दोस्तों ने उन्हें सुपरमॉडल सुनीता का टेलीफोन नंबर प्रोवाइड कराया।

आवाज के दीवाने थे अनिल कपूर

इसके बाद दोनों की बातचीत शुरू हो गई। अनिल, सुनीता की आवाज के दीवाने हो गए थे। हालांकि ये बात कम ही लोग जानते हैं कि स्ट्रगल के दिनों के दौरान अनिल कपूर के पास टैक्सी का किराया देने तक के पैसे नहीं हुआ करते थे, तो उस समय सुनीता ही उनका पूरा खर्च उठाती थी।

जब कैब के पैसे दिए सुनीता ने

अनिल ने एक इंटरव्यू में बताया था,  एक बार जब वो सुनीता से फोन पर बात कर रहे थे तो दोनों में मिलने को लेकर बात हुई। दोनों ही मिलने को तैयार हो गए। सुनीता ने अनिल कपूर से पूछा कि वो कितनी देर में पहुंच जाएंगे। तो इस पर अनिल कपूर ने कहा कि वो दो घंटे में पहुंच पाएंगे।

सुनीता ने इतना वक्त लगाने का कारण पूछा तो सच्चाई बताते हुए अनिल कपूर ने अपनी आर्थिक हालत बताई और कहा कि वो बस से आएंगे तो इतना वक्त तो लग ही जाएगा। उन्होंने कहा बस क्यों आ रहे हो, तो अनिल कपूर ने उन्हें साफ बताया कि उनके पास उतने ही पैसे हैं, कैब के लायक पैसे नहीं हैं। तब सुनीता ने अनिल से कहा, “आप कैब कर लो, मैं यहां उन्हें पैसे दे दूंगी।” इस डेट के बाद दोनों बस और टैक्सी से मुंबई की खूबसूरत जगहों की सैर करने लगे। सुनीता नामी मॉडल होने के बाद भी बस से घूमने में आपत्ति नहीं जताती थीं। वे ही अनिल का पूरा खर्च उठाती थीं। यही नहीं सुनीता से बेहद प्यार करने वाले अनिल ने दोस्तों की सलाह के चलते दो बार शादी पोस्टपॉन्ड कर दी थी। हालांकि 19 मई, 1984 को फाइनली इनकी शादी हो गई।

अगर आपको आर्टिकल पसंद आया तो शेयर जरुर करें और हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें।